Homeदेशसात राज्यों के 13 विधानसभा सीटों पर कल होगा उपचुनाव 

सात राज्यों के 13 विधानसभा सीटों पर कल होगा उपचुनाव 

Published on

न्यूज़ डेस्क 
देश भर में लोकसभा चुनाव के संपन्न होने के बाद एक बार फिर से प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए गठबंधन और राहुल गांधी के नेतृत्व वाली इंडिया गठबंधन आमने-सामने है। दरअसल, देश भर के 7 राज्यों की तेरह विधानसभा सीटों पर कल उपचुनाव होना है।

जिन सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से कुछ सीटें विधायकों के सांसद बनने के बाद खाली हुई है तो कई सीटों पर विधायकों के निधन के बाद सीट खाली होने के कारण चुनाव कराया जा रहा है।

बता दें कि 10 जुलाई को बिहार की एक, बंगाल की 4, तमिलनाडु की 1, मध्य प्रदेश की 1, उत्तराखंड की 2, पंजाब की 1, हिमाचल की 3 सीटों के लिए मतदान होगा। इन सीटों पर उपचुनाव का नोटिफिकेशन 14 जून को जारी हुआ था, नामांकन की आखिरी तारीख 21 जून रही और स्क्रूटनी भी 24 जून को हो चुकी है। नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 26 जून तय की गई थीॉ। इन सारी प्रक्रियाओं के बाद अब 10 जुलाई को वोटिंग होनी है, जिसके नतीजे 13 जुलाई को आएंगे।

राजनीति के जानकार बताते हैं कि बंगाल में लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिली शिकस्त के बाद से हीव पार्टी किसी भी हाल में उपचुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन करना चाहती है। बंगाल के जिन 4 सीटों मानिकतला, रायगंज, राणाघाट दक्षिण और बगदाह पर उपचुनाव हो रहा है।

इनमें चार सीटों में से तीन के भाजपा विधायक सत्तारूढ़ टीएमसी में शामिल हो गए थे और हाल ही में खत्म हुए लोकसभा चुनाव लड़े थे, हालांकि उन्हें चुनावों में हार मिली। ये सीटें रायगंज, राणाघाट दक्षिण और बाघा हैं। वहीं, एक सीट मानिकतला टीएमसी विधायक के निधन के बाद खाली हुई हैं।

बिहार में लोकसभा चुनाव में एनडीए की जबरदस्त जीत के बाद एक बार फिर से चुनावी मैदान में एनडीए और महागठबंधन आमने-सामने है। रुपौली विधानसभा सीट पर उपचुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। चुनावी मैदान में जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दल आमने-सामने हैं।

जनता दल यूनाइटेड ने रुपौली सीट से कलाधर मंडल को अपना उम्मीदवार बनाया है जबकि राजद ने एक बार फिर से बीमा भारती पर भरोसा जताते हुए अपना उम्मीदवार बनाया है। 

उपचुनाव की इस लिस्ट में मध्य प्रदेश का भी नाम है। यह सिर्फ एक उपचुनाव नहीं बल्कि बीजेपी और कांग्रेस की नाक का सवाल बन गया है।

बीजेपी छिंदवाड़ा लोकसभा जीतने के बाद बीजेपी इस विधानसभा को भी जीत लेना चाहती है तो वहीं कांग्रेस और कमलनाथ लोकसभा की हार का बदला लेने के मूड में हैं। अमरवाड़ा में मुख्य मुकाबला तो बीजेपी प्रत्याशी कमलेश शाह और कांग्रेस प्रत्याशी धीरन शाह इनवाती के बीच है।

आदिवासी बहुल सीट पर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी दोनों दलों के वोटरों में सेंध लगाने का दम रखती है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के उम्मीदवार देवरावेन भलावी पर भी सबकी नज़रें लगी हुई हैं क्योंकि साल 2003 में अमरवाड़ा से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी चुनाव जीत चुकी है। ठीक इसी तरह हिमाचल प्रदेश की तीन तमिलनाडु की एक सीट उत्तराखंड की दो सीट पर चुनाव होना है।

Latest articles

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...

पीएम मोदी कहा 2075 तक भारत अमेरिका को पछाड़ देगा !

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के...

यूपी सरकार के कावड़ यात्रा मार्ग पर ढाबो के मालिकों के नेम प्लेट लगाने के आदेश से जयंत चौधरी हुए अलग 

न्यूज़ डेस्क कांवड़ यात्रा मार्ग पर होटलों और ढाबों पर उनके मालिकों के नेम प्लेट...

हरियाणा के कांग्रेस विधायक पर ईडी  की कार्रवाई ,विधायक पवार हुए गिरफ्तार

न्यूज़ डेस्क सोनीपत जिले से कांग्रेस के विधायक सुरेंद्र पंवार को ईडी ने गिरफ्तार कर...

More like this

बांग्लादेश के युवा आखिर किस तरह के आरक्षण का हिंसक विरोध कर रहे हैं ?

न्यूज़ डेस्कबांग्लादेश अचानक हिंसा की चपेट में आ गया है। इस बारे बांग्लादेश के...

पीएम मोदी कहा 2075 तक भारत अमेरिका को पछाड़ देगा !

न्यूज़ डेस्क प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के...

यूपी सरकार के कावड़ यात्रा मार्ग पर ढाबो के मालिकों के नेम प्लेट लगाने के आदेश से जयंत चौधरी हुए अलग 

न्यूज़ डेस्क कांवड़ यात्रा मार्ग पर होटलों और ढाबों पर उनके मालिकों के नेम प्लेट...