Homeदेशमणिपुर में 18 करोड़ की बैंक डकैती ,सरकार मौन !

मणिपुर में 18 करोड़ की बैंक डकैती ,सरकार मौन !

Published on

न्यूज़ डेस्क
मणिपुर आज भी जल ही रहा है। सरकार के दावे कुछ भी हो सकते हैं लेकिन मणिपुर शांत नहीं नहीं है। मणिपुर के अधिकतर घर जल चुके हैं और जो बचे हैं वह रहने लायक नहीं। बड़ी आबादी शरणार्थी शिविरों में राह रही है। कब तक यह आबादी शरणार्थी बने रहेंगे कोई नहीं जानता। अपना घर ,गांव छोड़ने का दुःख सरकार के लोगों को क्या पता हो सकता है ?   
दो दिन पहले मणिपुर में एक बड़े उग्रवादी संगठन के साथ सरकार का शांति समझौता हुआ था। खूब चर्चा की गई। हथियार भी जमा कराये गए। गृह मंत्री शाह ने इस घटना को अपनी नदी उपलब्धि के रूप में दिखाया। संभव है मणिपुर के लिए यह बड़ी घटना भी हो। शांति को आखिर कौन नहीं चाहता ! उग्रवादी भी तो शांति चाहते हैं। लेकिन इस घटना के दो दिन बाद ही मणिपुर में बड़े बैंक डकैती हो गई। ऐसी डकैती जिसे सुनकर कोई भी परेशान ही जायेगा। 18 करोड़ की डकैती कोई मामूली डकैती नहीं है।    
   जानकारी के मुताबिक मणिपुर के उखरूल कस्बे में पंजाब नेशनल बैंक  की एक शाखा से एक अज्ञात सशस्त्र समूह ने एक साहसी डकैती में 18.85 करोड़ रुपये लूट लिए। यह जानकारी अधिकारियों ने दी है। पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से बताया कि 8 से 10 हथियारबंद लोगों ने बीती  शाम से ठीक पहले उखरूल शहर के व्यूलैंड-1 में स्थित पीएनबी बैंक की शाखा में धावा बोल दिया। बैंक कर्मचारी जब दिन के लेनदेन के बाद राशि की गिनती कर रहे थे, उसी समय 18.85 करोड़ रुपये लूट लिए।
कथित तौर पर अज्ञात नकाबपोशों के पास अत्याधुनिक हथियार थे। उन्होंने सुरक्षा कर्मियों और पीएनबी शाखा के कर्मचारियों पर कब्जा कर लिया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा कर्मियों और बैंक कर्मचारियों को बंदूक की नोक पर रस्सियों से बांध दिया गया और नगदी लेकर भाग गए हथियारबंदों ने स्टोर रूम के अंदर बंद कर दिया।
            वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में सुरक्षा बल तुरंत मौके पर पहुंच गए और बैंक प्राधिकरण ने इस संबंध में पुलिस में औपचारिक शिकायत दर्ज कराई है। सुरक्षा बलों ने लुटेरों को पकड़ने के लिए व्यापक तलाशी अभियान चलाया है। सात महीने पहले मणिपुर में भड़की जातीय हिंसा के बाद उखरूल कस्बे में यह पहली बार ऐसी दुस्साहसिक घटना हुई है। इससे पहले जुलाई में चुराचांदपुर में एक्सिस बैंक की एक शाखा से सशस्त्र गिरोह ने एक करोड़ रुपये की लूट की थी।

Latest articles

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...

क्या छत्तीसगढ़ के कांकेर में  फर्जी मुठभेड़ में मारे गए तीन कथित नक्सली ?

न्यूज़ डेस्क छत्तीसगढ़ के कांकेर में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए तीन लोगों की मौत...

More like this

आखिर सुप्रीम कोर्ट ने  बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर क्यों जारी किया नोटिस ?

न्यूज़ डेस्क सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि पर नोटिस जारी किया है।...

हिमाचल की सुख्खू सरकार संकट में ,विधायकों ने किया क्रॉस वोटिंग !

न्यूज़ डेस्क क्या हिमचाल की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है ? राज्यसभा की...

राज्यसभा चुनाव : अखिलेश यादव ने क्यों कहा कि दूसरों के लिए गढ़े खोदने वाले उसी में गिरते हैं 

न्यूज़ डेस्क उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों पर हो रहे चुनाव में मतदान के...