Homeदेशगजब की राजनीति !नतीजे आये नहीं लेकिन पीएम मोदी 100 दिन के...

गजब की राजनीति !नतीजे आये नहीं लेकिन पीएम मोदी 100 दिन के अगले अजेंडे पर काम शुरू कर दिए

Published on

न्यूज़ डेस्क 
चुनाव नतीजे आने से पहले ही अपनी जीत के प्रति आश्वस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरे कार्यकाल के शुरुआती 100-डे के एजेंडा तैयार कर उस पर अमल के लिए काम शुरू कर दिया है। मोदी ने रविवार को केंद्र सरकार के आला अफसरों के साथ सात अलग-अलग मीटिंगें कर 100-डे एजेंडा और अन्य सामयिक मुद्दों पर चर्चा कर जरूरी दिशा निर्देश दिए। सूत्रों का कहना है कि तीसरी बार सत्ता में आने पर मोदी कई बड़े फैसले लेने वाले हैं। इसके संकेत शुरुआती 100 दिनों में ही दिखेंगे।

दो माह के लंबे चुनाव प्रचार और कन्याकुमारी में 45 घंटे ध्यान साधना के बाद लौटे प्रधानमंत्री ने अवकाश के दिन अपने प्रधान सचिव, कैबिनेट सचिव, गृह सचिव आदि अफसरों के साथ पहली बैठक में चक्रवात रेमल के बाद की स्थिति की समीक्षा की। इसके बाद देश में गर्मी व लू की स्थिति और फिर विश्व पर्यावरण दिवस को बड़े पैमाने पर मनाने की तैयारियों पर प्रजेंटेशन देखा। 

प्रधानमंत्री ने आग की घटनाओं को रोकने और उनसे निपटने के लिए नियमित मॉक ड्रिल करने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री को अफसरों ने बताया कि इस वर्ष, देश के अधिकांश हिस्सों में मानसून सामान्य और सामान्य से अधिक तथा प्रायद्वीपीय भारत के कुछ हिस्सों में सामान्य से कम रहने की संभावना है।

चक्रवात रेमल से नुकसान व राहत कार्याें की समीक्षा करते हुए पीएम ने उत्तर-पूर्वी राज्यों में भूस्खलन और बाढ़ के कारण हुई जान-माल की हानि के बारे में भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार प्रभावित राज्यों को पूरा सहयोग देना जारी रखेगी। इसके बाद मोदी सरकार 3.0 के 100-डे एजेंडे की समीक्षा के लिए मैराथन बैठक की।

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता जयराम रमेश के सोशल मीडिया पोस्ट पर एक बयान पर चुनाव आयोग ने कड़ा नोटिस देकर सबूत व जवाब मांगा है। जयराम ने एक्स पोस्ट में कहा था कि अमित शाह को निवर्तमान गृह मंत्री कहते हुए आरोप लगाया कि वे जिला कलक्टर्स से बात कर उन्हें धमका रहे हैं। वह 150 जिला कलक्टरों से बात कर चुके हैं। कलक्टरों को धमकाने की कोशिश शर्मनाक व अस्वीकार्य है। ईसी ने पूछा है कि उनके दावे का आधार और प्रमााण क्या है?

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने अपना दावा दोहराया कि पूरे देश में लगभग 295 सीटें जीत कर इंडिया गठबंधन की सरकार बन रही है। राहुल गांधी ने कहा कि एग्जिट पोल का जवाब कार्यकर्ताओं को मतगणना केन्द्र पर मजबूती से डटे रहकर देना होगा। 

खरगे की अध्यक्षता में रविवार को हुई कांग्रेस की बैठक में राहुल ने कहा कि एग्जिट पोल से देश में भ्रम की स्थिति उत्पन्न की जा रही है, ताकि चुनाव परिणाम को प्रभावित किया जा सके। उन्होंने बैठक में वर्चुअल जुड़े प्रत्याशियों को निर्देश दिए कि अंतिम गिनती तक मतगणना केंद्र पर डटे रहें। कांग्रेस नेतृत्व ने अपने प्रदेश अध्यक्षों के साथ भी वर्चुअल बैठक की और फीडबैक लेकर मतगणना के बारे में निर्देश दिए।

Latest articles

कांग्रेस संगठन में होगा बड़ा उलटफेर, कई राज्यों में प्रदेश अध्यक्ष बदलने की तैयारी

लोकसभा चुनाव में मिली सफलता के बाद अब कांग्रेस पार्टी इस सफलता को और...

अखिलेश यादव ने दिया ‘मॉनसून ऑफर’, बीजेपी ने ऑफर का दिया जवाब

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक सीट जीतने के बाद अब समाजवादी...

यूपी में सियासी हलचल तेज,पीएम मोदी से मिले भूपेंद्र चौधरी,राज्यपाल आनंदीबेन से सीएम योगी ने की मुलाकात

      लोकसभा चुनाव में बीजेपी को यूपी में उम्मीद से काफी कम सीटें मिलने से...

ऐश्वर्या राय संग तलाक की अफवाहों के बीच अभिषेक बच्चन ने सोशल मीडिया पर किया ये काम, उठने लगे सवाल

अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट की शादी में देश और दुनियाभर से कई बड़े...

More like this

कांग्रेस संगठन में होगा बड़ा उलटफेर, कई राज्यों में प्रदेश अध्यक्ष बदलने की तैयारी

लोकसभा चुनाव में मिली सफलता के बाद अब कांग्रेस पार्टी इस सफलता को और...

अखिलेश यादव ने दिया ‘मॉनसून ऑफर’, बीजेपी ने ऑफर का दिया जवाब

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक सीट जीतने के बाद अब समाजवादी...

यूपी में सियासी हलचल तेज,पीएम मोदी से मिले भूपेंद्र चौधरी,राज्यपाल आनंदीबेन से सीएम योगी ने की मुलाकात

      लोकसभा चुनाव में बीजेपी को यूपी में उम्मीद से काफी कम सीटें मिलने से...