Homeदेशसीरियल किलर बनी 22 साल की वैज्ञानिक 20 दिन में पांच लोगों...

सीरियल किलर बनी 22 साल की वैज्ञानिक 20 दिन में पांच लोगों को मारा।

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

महाराष्ट्र के नागपुर से एक ऐसी घटना सामने आ रही है,जिसे जानकर आपके भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे।अपने पिता की मौत का बदला लेने के लिए अपने पति और चार ससुराल वालों की हत्या उसने ऐसी तरकीब से कर दी, जिसे देखकर आम आदमी के साथ-साथ पुलिस के भी होश उड़ गए। वैवाहिक जीवन से कथित तौर पर परेशान एक महिला ने घटना को अंजाम देने के लिए ऐसे केमिकल का इस्तेमाल किया था जिसका ना तो कोई रंग होता है, ना कोई स्वाद होता है और न ही कोई गंध होता है। ,केमिस्ट्री की भाषा में इसे जहरों का जहर कहा जाता है।

ससुराल वालों को मान रही थी पिता की मौत का जिम्मेदार

आरोपी महिला अपने पिता की मौत का जिम्मेदार ससुराल वालों को मान रही थी।आरोपी महिला का नाम संघमित्रा बताया जा रहा है।साथ ही यह भी जानकारी मिल रही है कि इस घटना में महिला ने अपनी एक मित्र को भी शामिल किया था, जिसका नाम रोजा राम टेके बताया जा रहा है। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।इस 22 साल की कृषि वैज्ञानिक महिला का वैवाहिक जीवन अच्छा नहीं चल रहा था। इस अनबन से परेशान संघमित्रा के पिता ने 5 महीने पहले महाराष्ट्र का अकोला स्थित अपने घर पर खुदकुशी कर ली थी। इसके बाद से ही महिला इस मौत का जिम्मेवार ससुराल वालों को मान रही थी।

सहेली रोजा की मदद से दिया वारदात को अंजाम

आरोपी महिला ने बदला लेने के लिए वैज्ञानिक रिसर्च कर इस बारे में पता लगाया कि कौन सा जहर का इस्तेमाल कर वारदात को अंजाम दिया जाए, जिससे सुरक्षा एजेंसी को भी कुछ पता नहीं चले।इसी क्रम में उसे सबसे घातक केमिकल थैलियम के बारे में जानकारी मिली,जिसे उसने इस्तेमाल किया। इसके बाद उसने गढ़चिरौली जो कि महाराष्ट्र का उग्रवाद प्रभावित जिला है के एक एक अज्ञात आदिवासी गांव में अपनी सहेली रोजा की मदद से पति और चार ससुराल वालों को एक-एक कर इस घातक जहरीले कैमिकल थैलियम को इंजेक्ट किया।

20 दिनों में की पांच लोगों की हत्या

गौरतलब हैकि उसने एक ही दिन में इन घटनाओं को अंजाम नहीं दिया, बल्कि इसके लिए उसने कुल 20 दिन लिए।उसके ससुराल वालों की मौत का सिलसिला 20 सितंबर से 10 अक्टूबर के बीच जारी रहा। शुरुआत में जब ऐसी घटना हुई तो डॉक्टर भी हैरान थे ,क्योंकि मौत का असली कारण नहीं पता चल पा रहा था ,लेकिन पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में इस जहरीले कैमिकल की मौजूदगी के बाद इस मामले की जांच और गहन तथा तेज हुई।एक-एक कर ऐसी घटना की व्यापक जांच की गई तब जाकर थैलियम के बारे में जानकारी मिली।

पुलिस भी रह गई भोंचक्की

इस घटना के अंजाम देने के तरीके को देख पुलिस भी भौंचक्की रह गई है।पुलिस ने जांच के बाद आरोपी महिला को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ किया तो उसने अपराध कबूल कर लिए। साथ ही पुलिस की पूछताछ में पूरे मामले की जानकारी दी और यह भी खुलासा क्या कि घटना में कैसे उसकी सहेली और रिश्तेदार पूजा ने भी साथ दिया था। दोनों को गिरफ्तार कर हत्या समेत अन्य गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

 

Latest articles

मुफ्त की योजनाएं या ‘जीवंत’ जीवन…!

पिछले सप्ताह यानी 14 जुलाई 2024 को मैंने इसी 'प्रहार' कॉलम में ये -...

महबूबा मुफ़्ती ने क्यों कहा कि बीजेपी सरकार उड़ा रही है संविधान की धज्जियां ?

न्यूज़ डेस्क यूपी की योगी सरकार की तरफ से जैसे ही कावड़ यात्रा के...

जम्मू कश्मीर में पांच सौ पैरा कमांडो तैनात ,पाक आतंकियों का अब होगा खात्मा !

न्यूज़ डेस्क जम्मू कश्मीर में जिस तरह फिर से आतंकवाद सिर उठा रहा है...

बांग्लादेश की हालत ख़राब ,अब तक 900 भारतीय लौटे भारत

न्यूज़ डेस्क बांग्लादेश में लगातार हो रही हिंसा के बीच पूरे देश में कर्फ्यू लगा...

More like this

मुफ्त की योजनाएं या ‘जीवंत’ जीवन…!

पिछले सप्ताह यानी 14 जुलाई 2024 को मैंने इसी 'प्रहार' कॉलम में ये -...

महबूबा मुफ़्ती ने क्यों कहा कि बीजेपी सरकार उड़ा रही है संविधान की धज्जियां ?

न्यूज़ डेस्क यूपी की योगी सरकार की तरफ से जैसे ही कावड़ यात्रा के...

जम्मू कश्मीर में पांच सौ पैरा कमांडो तैनात ,पाक आतंकियों का अब होगा खात्मा !

न्यूज़ डेस्क जम्मू कश्मीर में जिस तरह फिर से आतंकवाद सिर उठा रहा है...