Homeदेशइजराइल हमले में 20 मासूमों समेत 70 फिलिस्तीनी की मौत ,हमले में...

इजराइल हमले में 20 मासूमों समेत 70 फिलिस्तीनी की मौत ,हमले में सभी स्कूल ,कॉलेज ध्वस्त !

Published on

न्यूज़ डेस्क 
इज़राइल-हमास युद्ध के चलते इज़राइल की बमबारी के कारण गाजामें 80 प्रतिशत से अधिक स्कूल और सभी विश्वविद्यालय नष्ट हो गए हैं। जबकि गाजा में 80 प्रतिशत से अधिक स्कूल ज़ायोनी बमबारी में नष्ट हो गए हैं।

इस बीच, इज़राइल की सेना के लगातार हमलों से एक भी इलाका सुरक्षित नहीं है। विदेशी समाचार एजेंसी के अनुसार, इज़राइल की सेना ने राफा के घनी आबादी वाले इलाकों में अपने हमले तेज कर दिए हैं और साथ ही आगे बढ़ते हुए टैंक आवासीय भवनों पर गोलाबारी कर रहे हैं।  

इसरायली हमले से गाजा में सर्वनाश का मंजर दिख रहा है। जहाँ देखों उधर ही तबाही। सब कुछ तबाह हो चुका है। फिलिस्तीन के अधिकतर स्कूल ,कॉलेज तो खंडहर बन ही गए हैं ,मासूम बच्चे भी टारगेट किये जा रहे हैं पिछले दिन 20 मासूमों सहित 70 लोगों की लाशें बरामद की गई है।

 गाज़ा  के स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक एम्बुलेंस और नागरिक सुरक्षा दल ने इस कैंप से 20 बच्चों समेत लगभग 70 शवों को निकाला, जबकि लापता लोगों की तलाश चल रही है। बताया जा रहा है कि इन लोगों की इजरायल के हवाई ऑपरेशन में मौत हुई है।

जैसे ही ये इजरायली सेना यहां से गईं वैसे ही यहां से भागे लोग अपने-अपने घरों को गए और जब ये लोग अपने इलाकों में गए और वहां का जो हाल देखा तो उनकी चीखें निकल गई। यहां सारे घर, सड़कें, जल आपूर्ति सिस्टम और सीवेज जैसे बुनियादी ढांचे नष्ट हो चुके थे। चारों तरफ सिर्फ मलबा ही बिखरा हुआ था।

इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र  ने भी बयान दिया है जिसमें कहा गया कि उन्हें जबालिया कैंप से एक भयानक रिपोर्ट मिली है। जहां कई बच्चों समेत बड़ी संख्या में लोगों ने शरण ली हुई थी लेकिन उन्हें भी इजरायली सेना छोड़ा नहीं।

बता दें कि  गाजा़ में बीते 8 महीने से जंग लड़ रहे इजरायल ने आखिरकार युद्ध खत्म करने को हामी भर दी है। यही नहीं इजरायल  ने गाज़ा में युद्ध रोकने के लिए एक शांति प्रस्ताव भी रखा है जिसे अमेरिका के जरिए दुनिया के सामने जारी किया गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन  ने कहा है कि अब गाजा़ में शांति बनाने का। इजरायल इस युद्ध को रोकने के लिए मान गया है और उसने एक शांति प्रस्ताव भी रखा है।  

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने हमास के बंधक बनाए हुए लोगों को छोड़ने की शर्त पर ही गाज़ा में युद्ध रोकने की बात कही है। बाइडेन ने कहा कि ये प्रस्ताव 6 सप्ताह के चरण के साथ शुरू होगा जिसमें गाजा के सभी आबादी वाले क्षेत्रों से इजरायली सेना की वापसी होगी।

Latest articles

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...

बनारस में गंगा दशहरा के अवसर पर हजारो लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी !

न्यूज़ डेस्क कशी के पवित्र घाट पर गंगा दशहरा के अवसर पर आज हजारों लोगों...

More like this

क्या अध्यक्ष पद के बहाने टीडीपी और जेडीयू को भड़काकर कांग्रेस गिरा देगी मोदी सरकार

18वीं लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को भले ही बहुमत से 32 सीटें...

संजय राउत: एनडीए का स्पीकर नहीं बना तो जदयू और टीडीपी को तोड़ देगी बीजेपी !

न्यूज़ डेस्क मोदी की तीसरी बार सरकार तो बन गई लेकिन लोकसभा में स्पीकर को...

गंगा दशहरा के दिन पटना के बाढ़ में पलटी नाव, लापता लोगों को खोज रही एसडीआरएफ की टीम

बिहार में अक्सर हर पर्व के अवसर पर कहीं न कहीं नदी में लोगों...