Homeदेशमसीहियों के लिए देश की खतरनाक 13 जिलों में रांची भी

मसीहियों के लिए देश की खतरनाक 13 जिलों में रांची भी

Published on

बीरेंद्र कुमार झा

देश में 13 ऐसे जिले हैं, जहां ईसाई धर्म का पालन करना खतरनाक होता चला जा रहा है।इनमें ईसाइयों के खिलाफ हिंसा की 51 घटनाओं के साथ बस्तर जिला( छत्तीसगढ़) सबसे आगे है ।छत्तीसगढ़ के कूड़ा गांव में 14,उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में 14, जौनपुर रायबरेली व सीतापुर में 13- 13 कपूरपुर में 12, हरदोई ,महाराजगंज, कुशीनगर व मऊ में 10-10 और गाजीपुर तथा झारखंड के रांची में 9- 9 घटनाएं हुई है।यह बात यूनाइटेड क्रिश्चियन फोरम ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कही है।इसमें 2023 के प्रथम 8 महीना की घटनाओं की चर्चा की गई है।

बुनियादी सार्वजनिक चीजों के उपयोग पर लगाई जाती है रोक

फोरम की ओर से बताया गया है कि सामाजिक बहिष्कार के 54 मामले मुख्य रूप से छत्तीसगढ़ और झारखंड में हुए हैं। इस बहिष्कार में पीड़ितों को बुनियादी सुविधाओं तक पहुंच जैसे गांव के जल स्रोत, आम सड़क आदि से वंचित करना शामिल है। कुछ मामलों में पीड़ितों को अपनी फसल काटने से भी रोका जाता है।

फोरम ने जारी किए हिंसा के आंकड़े

यूनाइटेड क्रिश्चियन फोरम के जारी रिपोर्ट के अनुसार इस साल के 8 महीना में भारत के 23 राज्यों से ईसाइयों की खिलाफ हिंसा की 525 घटनाएं दर्ज की गई है, जबकि 2022 में 502 घटनाएं हुई थी। उत्तर भारत के तीन बड़े राज्यों में ईसाइयों के खिलाफ हिंसा की सबसे अधिक घटनाएं देखी जा रही है। इसमें 211 घटनाओं के साथ उत्तर प्रदेश सबसे आगे है।उसके बाद 118 घटनाओं के साथ छत्तीसगढ़ और 39 घटनाओं के साथ हरियाणा है। 2014 के बाद से इस तरह घटनाएं तेजी से बढ़ी है 2014 में 147, 2015 में 177, 2016 में 208, 2017 में 240, 2018 में 293, 2019 में 228, 2020 में 279, 2021 में 505, 2022 में 599 और 2023 के पहले 212 दिनों में 525 घटनाएं हुई हैं।

फोरम का आरोप

यूनाइटेड क्रिश्चियन फोरम के अनुसार हिंसा की ये घटनाएं विशेष आस्था के तथाकथित निगरानी समूहों के नेतृत्व में भीड़ द्वारा की गई है, जिन्हें कथित तौर पर सत्ता में बैठे लोगों का समर्थन प्राप्त है। ऐसे 520 मामले हैं जिन्हें जबरन धर्मांतरण के झूठे आरोप में गिरफ्तार किया गया है।इस विज्ञप्ति में मणिपुर का विवरण शामिल नहीं है।

 

Latest articles

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...

पंजाब के मतदाताओं के नाम आखिर मनमोहन सिंह ने क्यों लिखा पत्र ?

न्यूज़ डेस्क पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पंजाब के मतदाताओं के नाम एक...

More like this

अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार ख़त्म ,57 सीटों पर होगा मुकाबला !

न्यूज़ डेस्क सात राज्यों की कुल 57 सीटों पर 1 जून को मतदान है। इन...

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान दो मामले में हुए बरी 

न्यूज़ डेस्क पाकिस्तान तहरीके-इन्साफयानि पीटीआई  के संस्थापक इमरान खान को जिला व सत्र न्यायालय ने...

जयराम रमेश ने कहा -इंडिया’ गठबंधन 48 घंटे के भीतर करेगा प्रधानमंत्री का चयन!

न्यूज़ डेस्क कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने  कहा कि इस लोकसभा चुनाव में ‘इंडिया’ गठबंधन...