Homeटेक्नोलॉजीट्विटर ने फिर निकाला कर्मचारियों को, ब्लू टिक का आइडिया देने वाले...

ट्विटर ने फिर निकाला कर्मचारियों को, ब्लू टिक का आइडिया देने वाले की भी गयी नौकरी

Published on

न्यूज डेस्क
अरबपति कारोबारी और ट्विटर के सीईओ एलन मस्क ने जब से ट्विटर की कमान संभाली है, तब से लगातार बदलाव का दौर जारी है। ये बदलाव कर्मचारियों की छंटनी से भी जुड़े हैं। कंपनी ने अब तक 8वीं बार कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शनिवार को ट्विटर ने फिर दर्जनों कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। बता दें, एलन मस्क ने अक्टूबर के अंत में ट्विटर का अधिग्रहण जब से किया है, तब से ये छंटनी का 8वां दौर है।

कंपनी ने ब्लू टिक का आइडिया देने वाले कर्मचारी को भी निकाला

एलन मस्क जब ट्विटर के साथ सबसे पहले जुड़े थे, तब कंपनी के पास करीब 7,500 कर्मचारी थे। उस समय कंपनी ने इसकी संख्या कम कर लगभग 2,300 कर दिया था। अब यह 2,000 के करीब हो गई है। यह संख्या बचे हुए कुल वर्कफोर्स का 10 फीसदी है। बता दें, कंपनी ने उस कर्मचारी को भी नौकरी से निकाल दिया है, जिसने ट्विटर के मालिक एलन मस्क को ब्लू सब्सक्रिप्शन पॉलिसी लागू करने का आइडिया दिया था। इस बात की जानकारी उसने खुद दी है।

ट्विटर ने प्रोडक्ट मैनेजर एस्थर क्रॉफर्ड को कंपनी से निकाल दिया है। क्रॉफर्ड ने ट्विटर पर विभिन्न परियोजनाओं का नेतृत्व किया था, जिसमें वेरिफिकेशन सब्सक्रिप्शन के साथ कंपनी का ब्लू और इसके नेक्स्ट पेमेंट प्लेटफॉर्म शामिल हैं। अब तक निकाले गए कर्मचारियों में रिव्यू न्यूजलेटर प्लेटफॉर्म के निर्माता मार्टिजन डी कुइजपर भी थे, जिन्हें ट्विटर ने 2021 में कंपनी का सदस्य नियुक्त किया था।

काम पूरा करने के लिए ऑफिस में सोने वाली महिला कर्मचारी को भी हटाया

कंपनी ने उस महिला को भी नौकरी से निकाल दिया है, जो काम के प्रेशर के चलते घर नहीं जा पा रही थी और ऑफिस से ही लगातार काम कर रही थी। उसका एक फोटो ऑफिस में सोने का सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

गौरतलब है कि ट्विटर ने भारत में अपने तीन कार्यालयों में से दो को बंद कर दिया था और अपने कर्मचारियों को घर से काम करने का निर्देश दिया था। ट्विटर ने नई दिल्ली और मुंबई में अपने कार्यालय बंद कर दिए थे।

Latest articles

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...

पीएम मोदी का वज्र प्रहार,कांग्रेस का पंजा आपसे आरक्षण और मेहनत की कमाई छीन लेगा

देश में प्रथम चरण के मतदान के बाद इंडिया गंठबंधन के नेताओं खासकर कांग्रेस...

More like this

कर्नाटक सरकार ने सारे मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए ओबीसी लिस्ट में किया शामिल,

लोकसभा चुनाव जैसे - जैसे अगले चरण के चुनाव की तरफ बढ़ रहा है...

ईवीएम वीवीपीएटी वोट वेरिफिकेशन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फिर फैसला रखा सुरक्षित

कुछ प्रश्नों पर चुनाव आयोग के अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने के बाद, सुप्रीम कोर्ट...

हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी और ईडी की कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष अदालत में दाखिल की एसएलपी

न्यूज़ डेस्क अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने सुप्रीम...