Homeटेक्नोलॉजीIMF ने दुनिया को दी चेतावनी, कहा: AI के कारण दुनियाभर में...

IMF ने दुनिया को दी चेतावनी, कहा: AI के कारण दुनियाभर में 40% नौकरियां घटेंगी

Published on

न्यूज डेस्क
अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने चेतावनी दी है कि AI (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) के उदय से दुनिया भर में लगभग 40 फीसदी नौकरियां प्रभावित हो सकती हैं। IMF के मुताबिक AI के कारण उच्च आय वाली अर्थव्यवस्थाएं उभरते बाजारों और कम आय वाले देशों की तुलना में अधिक जोखिम का सामना कर रही हैं।

IMF ने पिछले रविवार को वैश्विक श्रम बाजार पर AI के संभावित असर का आंकलन किया और बताया कि ज्यादातर मामलों में, AI तकनीक के कारण वैश्विक स्तर पर सामाजिक और आर्थिक असमानता के बढ़ने का खतरा है। IMF प्रमुख क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने नीति निर्माताओं से इस “परेशान करने वाली प्रवृत्ति” से निपटने और “सामाजिक तनाव को और भड़काने से रोकने के लिए” सक्रिय रूप से कदम उठाने का आग्रह किया।

इस रिपोर्ट के मुताबिक IMF ने कहा कि AI एडवांस इकोनॉमिज में नौकरियों के बड़े अनुपात लगभग 60 फीसदी को प्रभावित करेगा। इनमें से आधे कर्मचारी ऐसे होंगे, जो AI से फायदा मिलने की उम्मीद कर सकते हैं, जिससे उनकी उत्पादकता बढ़ेगी।

इसके अलावा AI से उन कामों को भी किया जा सकेगा, जिसे करने के लिए इस वक्त इंसान यानी कर्मचारियों को जरूरत पड़ती है। इससे श्रम यानी कर्मचारियों की मांग कम हो सकती है, वेतन प्रभावित हो सकता है और यहां तक कि नौकरियां भी जा सकती है। हालांकि, IMF का अनुमान है कि AI टेक्नोलॉजी कम आय वाले देशों में केवल 26 फीसदी नौकरियों को प्रभावित करेगी।

IMF की मैनेजिंग डायरेक्टर ने कहा कि, “कई देशों के पास AI का फायदा उठाने के लिए बुनियादी ढांचा या कुशल कार्यबल नहीं है, जिससे यह जोखिम बढ़ गया है कि समय के साथ यह टेक्नोलॉजी दुनियाभर के देशों के बीच में असमानता को बढ़ा सकती है”।

IMF ने यह भी कहा कि AI दुनिया के विभिन्न देशों में आय और धन से जुड़ी असमानता को भी प्रभावित कर सकता है। यह विभिन्न आय वर्ग के लोगों के ध्रुवीकरण को भी बढ़ावा दे सकता है। IMF ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जो कर्मचारी AI के लाभों का उपयोग करने में सक्षम हैं, वे अपनी उत्पादकता और वेतन बढ़ा सकते हैं, जबकि जो लोग ऐसा नहीं कर सकते हैं उनके और पीछे जाने का खतरा है।

Latest articles

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...

बहुत कहता है समुद्री पारिस्थितिकी पर चीन का श्वेत पत्र !

न्यूज़ डेस्क चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर चीनी समुद्री...

More like this

चरित्रहीन राजनीति में सब कुछ जायज ,अब बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को बेकरार केसीआर !

अखिलेश अखिल नेताओं और राजनीति पर वैसे भी कोई यकीन नहीं करता क्योंकि राजनीति तो...

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, पूर्व अग्निवीरों को सीआईएसएफ और बीएसएफ में छूट मिलेगी

18 वीं लोकसभा चुनाव में जिस आधार पर कांग्रेस और इंडिया गठबंधन के अन्य...